इंदिरा गाँधी को जेल से छुड़ाने के लिए विमान का अपहरण तक किया गया

आज भारतीय राजनीति में नैतिकता और शुचिता की बात करने वाली काँग्रेस के आपराधिक चरित्र के इतिहास के बारे में आज भी बहुत कम लोग ही जानते हैं. आज बात करते हैं उस विमान अपहरण की जिसका उद्देश्य 1978 के जनता पार्टी के शासनकाल में जेल में बंद तत्कालीन विरोधी दल की नेत्री इंदिरा गाँधी को जेल से छुड़ाना और उनके पुत्र संजय गाँधी के ऊपर लगे सभी केसों को ख़त्म करना था. 

Indira Gandhi And Sanjay Gandhi

जी हाँ...20 दिसंबर 1978 को इंडियन एयरलाइन्स के यात्री विमान IC 410 का अपहरण भोलानाथ पाण्डेय और देवेन्द्र पाण्डेय नामक दो व्यक्तियों ने कर लिया था और उनकी मांग थी कि जेल में बंद इंदिरा गाँधी को जेल से रिहा किया जाए और उनके पुत्र संजय गाँधी के ऊपर चल रहे सभी केस वापस ले लिए जाएँ. बाद में भोलानाथ पाण्डेय और देवेन्द्र पाण्डेय को उनकी इस सेवा के लिए पुरस्कार के स्वरुप विधान सभा के टिकट भी दिए गए. भोलानाथ पाण्डेय दो बार दोआबा, बलिया से विधान सभा के लिए चुने गए गए. बाद में उन्हें इंडियन यूथ काँग्रेस का महासचिव भी बनाया गया. देवेन्द्र पाण्डेय भी हाल तक उत्तर प्रदेश काँग्रेस कमिटी के महासचिव रहे हैं. इस पूरे घटना क्रम के बारे में आप विकिपीडिया के इस लिंक पर क्लिक कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. इसके अलावा आप यहाँ भी क्लिक कर जानकारी ले सकते है. 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें